English word meaning, General competition, #Vocabulary.Part.1

English word meaning, General competition,
#Vocabulary.Part.1_Nasir_Sultan_Sb_Academy

By M Nasir Sir
www.nssacademy.in

=============================================

• a - ए

• ability - योग्यता

• able - योग्य

• about - के बारे में

• above - ऊपर

• absence - अनुपस्थिति

• absolutely - पूर्ण रूप से

• abuse - गाली

• accept - स्वीकार करना

[ ] access - पहुंच

• accident - दुर्घटना

• account - लेखा

• accurate - शुद्ध

• acquire - अधिग्रहण

• across - भर में

• act - अधिनियम

• action - कार्य

• actually - वास्तव में

• add - जोड़ना

[ ] addition - इसके अलावा

• address - पता

• admit - स्वीकार करना

• advantage - फायदा

• advice - सलाह

• affair - मामला

• afford - बर्दाश्त

• afraid - डरा हुआ

• after - बाद

• afternoon - दोपहर

[ ] again - फिर

• against - विरुद्ध

• age - आयु

• agent - एजेंट

• aggravation - उत्तेजना

• ago - पूर्व

• agree - इस बात से सहमत

• agreement - समझौता

• ahead - आगे

• airport - हवाई अड्डा

[ ] alarm - अलार्म

• alcohol - शराब

• alive - ज़िंदा

• …

What is audit? || अंकेक्षण से आप क्या समझते हैं?




अंकेक्षण क्या है ? अंकेक्षण से आप क्या समझते हैं?

अंकेक्षण एक महत्वपूर्ण व्यावसायिक कार्य है जिसमें भारि उत्तरदायित्व होता है तथा जिसके लिए पर्याप्त कुशलता एवं निर्णय की आवश्यकता होती है। प्राचीन काल में हिसाब-किताब रखने की प्रणाली अपूर्ण थी।

उन दिनों व्यवसायिक संस्थाएं छोटे-छोटे होती थीं और उनके पास अधिक पूंजी ना होने के कारण दैनिक लेन-देन भी कम होते थे। साधारणतया वह मनुष्य जो पूंजी लगाते थे संस्था की के हिसाब किताब करते थे। आता: किसी बाहरी व्यक्ति के द्वारा हिसाब किताब का अनुरक्षण कराया जाना आवश्यक नहीं समझा जाता था।

अंकेक्षण का आशय किसी व्यापार के लेखों की गहन जांच करना है जिससे उनकी सत्यता एवं नियमानुकूलता का सही ज्ञान हो सके।

एकाकी व्यापार तथा साझेदारी फर्म के हिसाब किताब की जांच कराना वैधानिक दृष्टि से अनिवार्य नहीं है, परंतु कंपनी के खातों का अंकेक्षण वैधानिक दृष्टि से अनिवार्य है।

इस प्रकार अंकेक्षण की अनिवार्यता का प्रश्न व्यवसाय तथा औद्योगिक संस्थाओं के बड़े पैमाने पर होने वाले विकास से जुड़ा हुआ है।

अंग्रेजी भाषा के शब्द ऑडिट ( Audit ) शब्द लैटिन भाषा के शब्द ' ऑडिरे ( Audire ) ' से बना है जिसका अर्थ है सुनना ( to hear ) | प्राचीन काल में हिसाब - किताब रखने की प्रणाली अपर्ण थी ।

उन दिनों व्यावसायिक संस्थाएं छोटी - छोटी होती थी और उनके पास अधिक पूंजी न होने के कारण दैनिक लेन - देन भी कम होते थे ।

साधारणतया वे मनुष्य जो पूंजी लगाते थे , वे ही संस्था का हिसाब - किताब देखते थे । उस समय अंकेक्षण का कार्य लेखपालकों द्वारा लेखा पुस्तकों में किये गये लेखों को सुनकर किया जाता था ।

इस प्रक्रिया में लेखपाल द्वारा किये गए अपने सभी लेन - देन के लेखों को किसी अधिकृत व्यक्ति के समक्ष सुनाया जाता था । वह अधिकृत व्यक्ति जिसे न्यायाधीश या अंकेक्षक कहा जाता था ।

वह लेखों को सुनने के बाद अपना मत देता था तथा आवश्यकता पड़ने पर स्पष्टीकरण भी कराता था । एक कम्पनी के खातों के वैधानिक अंकेक्षण की पृष्ठभूमि में स्पष्ट धारणा यह है कि एकाकी व्यापार व साझेदारी फर्म में संस्था का स्वामित्व व प्रबन्ध एक ही होता है ।

अंकेक्षण में प्रबन्ध के द्वारा किये गये कार्यकलाप तथा लेखों की जांच स्वामी की ओर से करायी जाती है । इसके विपरीत , कम्पनी में प्रबन्ध व स्वामित्व अलग - अलग होते हैं , क्योंकि उसका प्रबन्ध संचालक मण्डल के द्वारा किया जाता है , जबकि अंशधारी कम्पनी के स्वामी होते हैं ।

इस प्रकार , कम्पनी के स्वामी अर्थात् अंशधारी अपने हितों के संरक्षण के लिए अंकेक्षक की नियुक्ति करते हैं तथा कम्पनी के कार्यों की जांच करवाकर अंकेक्षक से प्रमाण - पत्र प्राप्त करते हैं । वास्तव में उनके हित - संरक्षण के लिए ही कम्पनी के खातों के अंकेक्षण की अनिवार्यता की गयी है ।

What is audit ? What do you understand by audit ?

Auditing is an important business function in which screw responsibility is required and which requires adequate skill and judgment. In ancient times the system of keeping accounts was incomplete.

In those days, business entities were small and due to lack of more capital, daily transactions were also less. Generally, the human who used to put capital used to book according to the organization. Aata: It was not considered necessary to maintain an account by an outsider.

The purpose of the audit is to conduct a thorough examination of the articles of a business so that they can have an accurate knowledge of their veracity and normality.

It is not legally mandatory to check the book of accounts of a lone business and partnership firm, but auditing the accounts of the company is legally mandatory.

Thus, the question of the imperative of audit is related to the large-scale development of business and industrial institutions.

The English word Audit is derived from the Latin word 'Audire' which means to hear. In ancient times, the system of keeping accounts was inferior.

In those days business entities were small and due to not having much capital, daily transactions were also less.

Generally, those people who used to invest capital, they used to see the accounting of the institution. At that time, the audit work was done by the accountants after listening to the articles made in the books of accounts.

In this process, the accounts of all their transactions made by the accountant were heard before an authorized person. The authorized person was called a judge or auditor.

He gave his opinion after listening to the articles and also gave clarification when needed. In the backdrop of the statutory audit of accounts of a company, the clear assumption is that in a single business and partnership firm, the ownership and management of the institution is the same.

In the audit, the activities and accounts done by the management are examined by the owner. In contrast, management and ownership in the company are different, as it is managed by the governing board, while the shareholders are the owners of the company.

Thus, the owner of the company ie the shareholders appoints the auditor for the protection of their interests and after examining the functions of the company, obtain a certificate from the auditor. In fact, it is mandatory to audit the accounts of the company for their protection.

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वित्तीय लेखांकन क्या है? What is Financial Accounting?

स्वच्छ भारत अभियान या स्वच्छ भारत मिशन || Clean India Campaign or Clean Indi Mission

My Dream life IPS Officer