English word meaning, General competition, #Vocabulary.Part.1

English word meaning, General competition,
#Vocabulary.Part.1_Nasir_Sultan_Sb_Academy

By M Nasir Sir
www.nssacademy.in

=============================================

• a - ए

• ability - योग्यता

• able - योग्य

• about - के बारे में

• above - ऊपर

• absence - अनुपस्थिति

• absolutely - पूर्ण रूप से

• abuse - गाली

• accept - स्वीकार करना

[ ] access - पहुंच

• accident - दुर्घटना

• account - लेखा

• accurate - शुद्ध

• acquire - अधिग्रहण

• across - भर में

• act - अधिनियम

• action - कार्य

• actually - वास्तव में

• add - जोड़ना

[ ] addition - इसके अलावा

• address - पता

• admit - स्वीकार करना

• advantage - फायदा

• advice - सलाह

• affair - मामला

• afford - बर्दाश्त

• afraid - डरा हुआ

• after - बाद

• afternoon - दोपहर

[ ] again - फिर

• against - विरुद्ध

• age - आयु

• agent - एजेंट

• aggravation - उत्तेजना

• ago - पूर्व

• agree - इस बात से सहमत

• agreement - समझौता

• ahead - आगे

• airport - हवाई अड्डा

[ ] alarm - अलार्म

• alcohol - शराब

• alive - ज़िंदा

• …

वाणिज्य क्या है? एवं इस के कितने प्रकार है..|| What is commerce? And how many types of this ..



वाणिज्य क्या है? एवं इस के कितने प्रकार है..

वाणिज्य (Commerce) ऐसा माध्यम है जिससे किसी माल या सामान को उत्पादक के यहां से उपभोक्ता तक पहुंचाया जाता है जिसे वाणिज्य कॉमर्स कहा जाता है।

वाणिज्य विशेष रूप से बड़े पैमाने पर सामान खरीदने और बेचने की प्रक्रिया है। वाणिज्य खरीद एवं बिक्री की एक बहुत बड़ी गतिविधियाँ है। विशेष रूप से बड़े पैमाने पर वस्तुएं तथा सेवाएं प्रदान करने का एक बहुत बड़ी माध्यम है।

वाणिज्य के तीन प्रकार हैं....

1. विदेशी वाणिज्य (Foreign Country): विदेशी वाणिज्य से तात्पर्य यह है कि जब हम अपने देश से दूसरे देश में बड़े पैमाने पर व्यापार या व्यवसाय करते हैं या बड़े पैमाने पर माल खरीदते हैं भेजते हैं या सेवाएं प्रदान करते हैं तो ऐसे कार्य को ही विदेशी वाणिज्य कहा जाता है। जैसे..भारत से दुबई को माल निर्यात करना आदी..


2. अंतर राज्य वाणिज्य ( Inter state commerce) अंतर राज्य वाणिज्य से तात्पर्य यह है कि अपने ही देश में किसी भी माल या सामान को उत्पादन करना या खरीद बिक्री करना या सेवाएं प्रदान करना ही अंतर राज्य वाणिज्य कहा जाता है जिसमें माल सामग्रियों या सेवाओं का अपने ही देश में परिवहन करना शामिल है। जैसे...दिल्ली से बिहार में माल या वस्तुओं का परिवहन करना आदि..

 
3. किसी राज्य के भीतर वाणिज्य (Intrastate commerce) ऐसे राज्य जिसमें किसी भी माल या सामान के उत्पादन या   क्रय विक्रय या सेवाएं अपने ही राज्य के अंदर हो तो उसे इंट्रा स्टेट कॉमर्स कहा जाता है ।



What is commerce? And how many types of this ..

Commerce is the medium through which any goods or goods are transported from the producer's place to the consumer, which is called commerce.

Commerce is the process of buying and selling goods, especially on a large scale. Commercial buying and selling is a very big activity. In particular, there is a very large means of providing goods and services on a large scale.

There are three types of commerce ....

1. Foreign Country: Foreign commerce means that when we do large-scale trade or business from our country to another country or buy goods on a large scale, we send or provide such services. The same is called foreign commerce. Like .. accustomed to export goods from India to Dubai ..


2. Inter-state commerce. Inter-state commerce means that the production or purchase, sale or supply of any goods or goods in its own country is called inter-state commerce in which the goods or services Includes transportation to one's own country. Like… transporting goods or goods from Delhi to Bihar etc.


3. Intrastate commerce within a state in which any goods or goods produced or travel sales recall services are within its own state is called intra state commerce.

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वित्तीय लेखांकन क्या है? What is Financial Accounting?

स्वच्छ भारत अभियान या स्वच्छ भारत मिशन || Clean India Campaign or Clean Indi Mission

My Dream life IPS Officer